10.9 C
Munich

इंग्लैंड बनाम भारत 2022 – पलटवार करने का पूरा प्रयास करेगा इंग्लैंड

Must read


कुछ दिन पहले ही भारत और इंग्लैंड के बीच बर्मिंघम में ही पटौदी ट्रॉफ़ी का पांचवा टेस्ट खेला गया था। इसके बाद वहां फिर से टी20 सीरीज़ का दूसरा मैच खेला जाना है। इस सीरीज़ के पहले मैच को भारत ने एकतरफ़ा जीता था। उस मैच को उन्होंने 50 रन के अंतर से मेज़बान टीम को हराया था।

पांचवें टेस्ट में मिली हार के बाद भारतीय टीम के कुछ खिलाड़ियों को बर्मिंघम में ही इंतज़ार करना था ताकि वह दूसरे टी20 मैच के लिए अपनी टीम में फिर से शामिल हो सकें। विराट कोहली, ऋषभ पंत, श्रेयस अय्यर, रवींद्र जाडेजा और जसप्रीत बुमराह जैसे खिलाड़ियों के पास पांचवें मैच में मिली हार के बाद सोचने के लिए काफ़ी कुछ होगा। वह सोच रहे होंगे कि आख़िर पांचवें टेस्ट में उनसे कहां ग़लती हो गई। हालांकि एक बात यह भी है कि उस मैच के बाद उनके पास आराम करने के लिए काफ़ी समय था।

भारतीय टीम ने भले ही पिछले 19 टी20 मैचों में 17 मैचों में जीत हासिल की हो लेकिन उन्हें अभी भी अपनी टीम के कई समस्याओं को ठीक करना है। भारत ने टी20 विश्व कप में काफ़ी ख़राब प्रदर्शन किया था। साथ ही 2019 के वनडे विश्व कप में भी उनके हाथ निराशा ही लगी थी। हालांकि टी20 सीरीज़ के पहले मैच में उनकी मानसिकता काफ़ी स्पष्ट थी। पहले मैच में उन्होंने सकारात्मक रणनीति के साथ अपने खेल को आगे बढ़ाया था।

वही इंग्लैंड की टीम के बारे में बात की जाए तो सफेद गेंद की क्रिकेट में वह काफ़ी बढ़िया खेल दिखा रहे हैं। वह मैदान पर एक विशिष्ट रणनीति के साथ आगे बढ़ते हैं। कुछ एक परिस्थितियों में उनके गेंदबाज़ विपक्षी टीम पर काफ़ी भारी पड़ते हैं। साथ ही बल्लेबाज़ी में आक्रामक रूख़ तो अब उनके खेल का एक अहम हिस्सा बन चुका है।

हालांकि एक चिंता का विषय यह है कि एक कप्तान के तौर पर बटलर ने पिछले सात पारियों में चार में शून्य का स्कोर बनाया है। आईपीएल में उनका फ़ॉर्म कुछ और ही बयां कर रहा था। इस कारणवश भारतीय टीम उनके ख़िलाफ़ एक विशेष रणनीति के साथ मैदान पर उतरना चाहेगी। पहले मैच में लियम लिविंगस्टन का प्रदर्शन भी कुछ ख़ास नहीं रहा था। इसके अलावा गेंदबाज़ी क्रम में अब बुमराह की भी वापसी होने वाली है। इंग्लैंड की टीम के लिए भारतीय पेस आक्रमण का सामना करना अब थोड़ा और मुश्किल होने वाला है।

हालिया प्रदर्शन

इंग्लैंड: हार, हार, जीत, हार, जीत
भारत: जीत, जीत, जीत, जीत, जीत,

टीम न्यूज़

इंग्लैंड की टीम में शायद ज़्यादा बदलाव नहीं किए जाएंगे। हालांकि पहले टी20 में टीम के गेंदबाज़ों को प्रदर्शन कुछ ख़ास नहीं रहा था। टिमाल मिल्स या रीस टॉप्ली को टीम से बाहर किया जा सकता है। इसके अलावा टीम में रिचर्ड ग्लीसन को भी शामिल किया जा सकता है।

इंग्लैंड (संभावित): 1 जेसन रॉय, 2 जॉस बटलर (कप्तान और विकेटकीपर), 3 डाविड मलान, 4 मोईन अली, 5 लियम लिविंगस्टन, 6 हैरी ब्रूक, 7 सैम करन, 8 क्रिस जॉर्डन, 9 डेविड विली, 10 रिचर्ड ग्लीसन, 11 मैट पार्किंसन

भले ही भारतीय टीम ने पहले मैच में काफ़ी बढ़िया प्रदर्शन किया लेकिन उनकी टीम में हमें कई बदलाव देखने को मिल सकते हैं। दीपक हुड्डा और सूर्यकुमार यादव में से कोई भी खिलाड़ी टीम से बाहर करने के लायक नहीं हैं। नंबर तीन और नंबर चार पर बल्लेबाज़ी करने के लिए वह एकदम उपयुक्त विकल्प हैं। हालांकि टीम में विराट कोहली के आने से बल्लेबाज़ी क्रम में बदलाव निश्चित है। इसके अलावा पंत ने पांचवें टेस्ट में जिस तरह से प्रदर्शन किया, उन्हें भी टीम में शामिल किया जा सकता है। इसके अलावा भारतीय टीम अर्शदीप सिंह की जगह पर बुमराह को टीम में ला सकती है।

भारत (संभावित): 1 रोहित शर्मा (कप्तान), 2 ईशान किशन, 3 विराट कोहली, 4 सूर्यकुमार यादव / दीपक हुड्डा / श्रेयस अय्यर, 5 ऋषभ पंत (विकेटकीपर), 6 हार्दिक पांड्या, 7 रवींद्र जाडेजा, 8 हर्षल पटेल, 9 भुवनेश्वर कुमार, 10 युज़वेंद्र चहल, 11 जसप्रीत बुमराह

पिच और परिस्थिति

एजबेस्टन में हाल ही में काफ़ी क्रिकेट मैचों का आयोजन किया गया है । इस सीज़न में यहां आठ टी20 ब्लास्ट के मैचों में पहले बल्लेबाज़ी करने वाली टीम को पांच बार जीत मिली है। पहले बल्लेबाज़ी करने वाली टीम के स्कोर 101 से लेकर 228 तक रहे हैं। साथ ही कि मौसम काफ़ी साफ़ रहेगा।

ज़रूरी आंकड़ें

अपने ख़राब फ़ॉर्म के बावजूद इंग्लैंड के ख़िलाफ़ कोहली का हालिया टी20 फ़ॉर्म प्रभावशाली रहा है। 2021 की घरेलू श्रृंखला में उन्होंने पिछले चार मैचों में से तीन में 73* (49), 77* (46), और 80* (52) का स्कोर बनाया था।

पहले टी20 में क्रिस जॉर्डन 2 विकेट लेकर इंग्लैंड के लिए टी20 में सबसे ज़्यादा विकेट लेने वाला गेंदबाज़ बन गए हैं।

रॉय को इंग्लैंड के लिए टी20 अंतर्राष्ट्रीय में 1500 रनों तक पहुंचने के लिए 50 रनों की ज़रूरत है।

हार्दिक को भारत के लिए टी20 अंतर्राष्ट्रीय में 50 विकेट तक पहुंचने के लिए तीन और विकेट की ज़रूरत है।

ऐंड्रयू मिलर ESPNcricinfo में यूके एडिटर हैं। अनुवाद ESPNcricinfo हिंदी में सब एडिटर राजन राज ने किया है।



Source link

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest article